व्यंग्य

नवा बैला के चिक्कन सिंग चल रे बैला टिंगे-टिंग : किरकेट के कहिनी

पूरा संसार म भारतीय क्रिकेट के नाम इहां तक होगे के आस्ट्रेलिया टीम के कप्तान रिकी पोंटिंग के हे लगिस कि भारत के बिना क्रिकेट में मजा नइए। सन् 2011 में फेर विश्वकप बर क्रिकेट मैच होही अउ भारत उपमहाद्वीप के चार देस लंका पाकिस्तान बंगलादेश अउ भारत में से एक ला मेजबानी करे के हे।
ये संसार में मनोरंजन बर बहुत किसम के खेल होथे। अपन-अपन समय के मुताबिक सब प्रसिध्द रहिन। खेल मन ला दो भाग में बांट देथन पहिली घर भीतर कमती जगह में खेले जाने वाला खेल जइसे चौसर (पासा) शतरंज, केरम आदि दूसर होथे मैदानी खेल जेला घर ले बाहिर मैदान में खेलथे। एकर उदाहरण हे भौंरा, गिल्ली-डंडा, बांटी, फुटबाल, हॉकी, टेनिस, क्रिकेट आदि। ओलंपिक खेल में सबो किस्म के खेल के नजारा देख सकथन। वर्तमान समय म अंतर्राष्ट्रीय स्तर के खेल म पहिली नंबर क्रिकेट के हे। ऐमा ग्यारह खिलाड़ी होते अउ एकर चलन हमार देस म अब गांव-गांव म हो गे हे। पहिली ये खेल हर बड़े-बड़े आदमी के रहाय, राजा-महाराजा मन खेले अब जमाना बदलगे अब येला सब खेलत हे। क्रिकेट में खिलाड़ी मन ला फीस अउ इनाम बहुत मिलथे। सट्टा भी बहुत लगाथें। टीवी वाला मन के बहुत कमाई होथे अउ का लइका, का जवान का बुढ़वा का नर अउ का नारी सबला पसंद आथे। हमर देस म कई साल होगे किरकेट के चलन हे। एकर सबले बड़े मेच विश्वकप के होते जउन चार सात में एक बेर होथे। कपिल देव के कप्तानी में एक बेर हमरो देस विश्वकप जीत चुके हे। ओकर बाद कई झन कप्तान बनिन। एक ले बढ़के एक खिलाड़ी आइन फेर सेमीफायनल अउ फायनल मैच खेल के हार जान।
2-3 साल पहिली हमार देस में आस्ट्रेलिया के प्रसिध्द खिलाड़ी ग्रेग चैपल ला प्रशिक्षक (कोच)। ग्रेग चेपल नवा-नवा तकनीक सिखाइस। शारीरिक मानसिक सबे किसम के प्रशिक्षण दिस अउ एक नवा काम करिस पुराना खिलाड़ी मन ला सन्यास ले बर कहिस। नवा-नवा खिलाड़ी मन ला भारतीय टीम म लाइस। जैसे महेन्द्र सिंह धोनी ल कप्तान बनाइस, युवराज सिंह, बीरेन्द्र सहवाग ल उपकप्तान बनाइस, एमन ला छोड़ के गौतम गंभीर, ईशांत शर्मा, रूद्र प्रताप सिंह, राहुल शर्मा, राबिन अउ कतकोन नवा खिलाड़ी मन ला भारतीय टीम म शामिल करिस, संग में पुराना खिलाड़ी जइसे सचिन तेंदुलकर, हरभजन सिंह, यहू मन ला राखिस। अब भारतीय क्रिकेट टीम के का कहना हे। 2007 में 20-20 ओव्हर के खेल म विश्वकप जीत गे। विश्व के नंबर एक के टीम आस्ट्रेलिया ल हरा दइस। अभी इंग्लैण्ड ल हरा दइस। संगे संग भारतीय क्रिकेट बोर्ड के कार्यकारिणी में भी परिवर्तन होगे अध्यक्ष बदल गे चयन कर्ता बदलगे पिछले साल आईपीएल जेला इंडियनप प्रीमियर लीग मेच कहिथे एकर आयोजन भारत में करे गइस एमा 20 ओव्हर के मैच रहिस दुनिया के सब प्रसिध्द खिलाड़ी मन ला विश्व स्तर के खिलाड़ी मन संग खेले के मौका मिलिस। जनता ल बहुत आनंद मिलिस। अब भाई हो पूरा संसार म भारतीय क्रिकेट के नाम इहां तक होगे के आस्ट्रेलिया टीम के कप्तान रिकी पोंटिंग के हे लगिस कि भारत के बिना क्रिकेट में मजा नइए। सन् 2011 में फेर विश्वकप बर क्रिकेट मैच होही अउ भारत उपमहाद्वीप के चार देस लंका पाकिस्तान बंगलादेश अउ भारत में से एक ला मेजबानी करे के हे। अभी तो अइसे लक्षण दिखत हे कि भारत ह मेजबानी करिही फेर आखिरी में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट बोर्ड के निर्णय के ऊपर हे। हमर अंदाजा अउ विश्वास हे कि महेन्द्र सिंह धोनी के कप्तानी म भारत ह विश्वकप जीतही।
भारतीय क्रिकेट के अतेक प्रगति के पीछे मूल बात हे नवा खिलाड़ी अउ नवा प्रबंधन के प्रवेश नवा जोश हे, नवा खेल हे, अउ नवा-नवा जीत के जज्बा हे। एकरे सेती हमर जुन्ना कहावत हे- नवा बैला के चिक्कन सिंग चल रे बैला टींगे-टींगे।
बलराम शर्मा
30 स्टेटबैंक कालोनी
सुन्दर नगर, रायपुर

One thought on “नवा बैला के चिक्कन सिंग चल रे बैला टिंगे-टिंग : किरकेट के कहिनी”

Comments are closed.