सुरता

छत्तीसगढ़ के रफी : केदार यादव

सुरता : एक जमाना रहिस जब सत्तर – अस्सी के दसक म आकासवाणी ले छत्तीसगढ़ी के लोकप्रिय गीत ‘बैरी-बैरी मन मितान होगे रे, हमर देस मा बिहान होगे रे’ जब बाजय त सुनईया जम्मा छत्‍तीसगढ़िया मन ये गीत के संगे-संग गुनगुनाये लागंय। ये गीत के गायक के भरावदार गला अउ सुमधुर कोरस के संग पारंपरिक […]

गीत

बाल गीत

देखे म लोर लोर, बताये म जोर जोर गांव गली सोर सोर, गाड़ी बइला होर होर पानी गिरय झोर झोर, मूंड गांथे कोर कोर छत्तीसगढ़ मोर मोर, बोली भाखा ओर ओर तीजा तिहार पोर पोर, बेटी रोवय फोर फोर भईया आही अगोर अगोर, साव बनगे चोर चोर रानी कहय घोर घोर, राजा कहय थोर थोर […]

गीत

सपना के गांव

हाना हाना म डोले मोर सपना के गांव पाना पाना म लिखे महतारी के नांव. झुनुक झेंगुर हर गावे फुदुक टेटका मगन आनी बानी के फूल इंहा हरियर उपवन बाना बाना मा बोले मोर सपना के गांव पाना पाना म लिखे महतारी के नांव. धरे नांगर तुतारी, धनहा बिजहा माटी धरती दाई के बेटा के […]

गीत

मसक मउंहा रे कहां पाबे सोंहारी

मसक मउंहा रे कहां पाबे सोंहारी चम्मच ह मजा करे झारा दुखियारी. गहूं बर मुसुवा हे शक्कर बर चांटा परलोखिया झड़कत हे घी के पराटा खरतरिहा झांके रे पर के दुवारी. मसक मउंहा रे कहां पाबे सोंहारी. बरा बोबरा ला घर लीस बहिरासू चीला लसकुसही बोहावत हे आंसू कुसली बिड़िया चले ठाकुर जोहारी. मसक मउंहा […]

कविता

बैसाखु के गांधी मिलगे

आज गांधी जयंती आय…. गांधी के सिद्धांत अउ आदर्श के बात होवत हे.. सब कहत हे गांधी के रद्दा म चलना चाही…. फेर वो रद्दा कोन मेर हे, ये कोनों नइ बतात हे… बैसाखु ल इही चिंता खाय जात हे… काबर कि वो गांधी के खोज म जेन निकले हे.. फेर बपरा ल गांधी अभी […]

गीत

छत्तीसगढ़ के लोकगीत म गांधी

देंवता बन के आये गांधी, देंवता बन के आये. हमरे देस के अन धन ला, जम्मा जम्मो लूटिन परदेसियन के लड़वाए ले, भाई ले भाई छूटिन देस ला करके निचट निहत्था, उल्टा मारैं सेखी बोहे गुलामी करत रहेन हम, उंखरे देखा देखी तैं आंखी ला हमर उघारे, जम्मो पोल बताए गांधी देंवता बन के आये.. […]

संपादकीय

मेकराजाला म चार बरिस के गुरतुर गोठ : दू आखर

आजे के दिन गांधी बबा के सुरता म सन् 2008 ले चालू हमर ये मेकराजाला के गुरतुर गोठ ह आज चार बरिस के होगे हावय. आप जम्मो संगी मन हमला अड़बड़ मया देहेव अउ आप मन के दुलार ले, हमन जइसे तईसे हमर भाषा के रचना मन ला इंहा सकेल के आप मन बर अउ […]