गीत

मोर छत्तीसगढ़ मइयां

मोर छत्तीसगढ़ मइयां।
परथंव मंय तोरे पइयां।
बासी के खवइया, मइयां हो sss
सुग्घर बोली मीठ लागे न। हो मइयां हो sss
हरियर अंचरा नीक लागे न।

सुवा पंथी करमा ददरिया, नाचा मन ल भावय ग।
झांझ मंजीरा घुँघरू मांदर, संगे संग सुनावय ग।
नाचे कलगी मुड़ म खोंचे।
गौरा गौरी मुड़ म बोके।
धोती कुरता म रउत नाचय sss
पंडवानी के गवइया, मइयां हो sss
सुग्घर बोली मीठ लागे न। हो मइयां हो sss
हरियर अंचरा नीक लागे न।

मेहनत मंजूरी हमर किसानी, जिन्गी भर ले करना हे।
पोइल्का लुगरा ककनी बहुंटा, रंगे रंग के गहना हे।
टोरे नहाना चलाके जांगर।
खांध तुतारी धरके नांगर।
कुकरा बासत उठके बिहना sss
मुखारी के घसइया, मइया हो sss
सुग्घर बोली मीठ लागे न। हो मइयां हो sss
हरियर अंचरा नीक लागे न।

नरवा नदिया डबरी तरिया, निरमल पानी बोहावथे।
छत्तीसगढ़ के कोरा म, चम्पा गोंदा महमहावथे।
राम के शबरी दाई जिहाँ।
जगा जगा महामाई इहाँ।
तोरा करके मरो माटी sss
सोनहा धान के उपजइया, मइयां होsss
सुग्घर बोली मीठ लागे न। हो मइयां हो sss
हरियर अंचरा नीक लागे न।

बरा ठेठरी खुरमी सोहांरी, गुरतुर पाग के अइरसा हे।
चना मुर्रा लाड़ू खजनिया, चटनी संग पेज पसिया हे।
भरे खजाना राज हमर म।
डोंगरी झाड़ी फबे डहर म।
सिरजे हावय हीरा भाखा sss
ढ़रथे मया अउ पिरीतिया, मइयां हो sss
सुग्घर बोली मीठ लागे न। हो मइयां हो sss
हरियर अंचरा नीक लागे न।

मोर छत्तीसगढ़ मइयां।
परथंव मंय तोरे पइयां।
सिधवा के दिखइया, मइयां हो sss
सुग्घर बोली मीठ लागे न।
हो मइयां हो sss
हरियर अंचरा नीक लागे न।

तेरस कैवर्त्य (आँसू )
गांव – सोनाडुला, (बिलाईगढ़)
जिला – बलौदाबाजार (छ. ग.)
पिन – 4 9 3 3 3 8
मो. – 9165720460
[responsivevoice_button voice=”Hindi Female” buttontext=”ये रचना ला सुनव”]